आशा का लंगर

आशा का लंगर

वह आशा हमारे प्राण के लिये ऐसा लंगर है जो स्थिर और दृढ़ है, और परदे के भीतर तक पहुंचता है। – इब्रानियों 6:19

हम सब हमारे जीवनों में मुश्किल के समयों में होकर जाते है, और एक तूफान में जहाज के समान, हमें स्थिर बने रहने में सहायता की आवश्यकता होती है। एक समुन्द्री जहाज में इसको स्थिर रखने में सहायता के लिए एक लंगर होता है। और बाइबल कहती है कि हमारे प्राण का लंगर आशा है।

जब आप और मैं हमारी आशा को दृढ़ता के साथ परमेश्वर और उसके वचन में रखते है, हम हवा और लहरों को महसूस कर सकते है, पर अंत में हम एक जगह ही रहेंगे।
एक तूफान के दौरान, आशा हमें उन बातों की तरफ जैसा वो है देखने और फिर भी आत्मविश्वास रखने की योग्यता को देती कि कुछ अच्छा आ रहा है। वो आशा को आपके और मेरे लिए एक बहुत शक्तिशाली और महत्वपूर्ण योग्यता बनाता है – विशेषकर मुश्किल के समयों में। वास्तव में, मैं विश्वास करती हूँ कि यह वो बुनियाद है जिस पर हमारे विश्वास का निर्माण होना चाहिए।

कोई भी नहीं – यहां तक कि परमेश्वर भी – यह वायदा नहीं कर सकता कि हमें कभी भी निराश या समस्या का सामना नहीं करना होगा। पर महत्वपूर्ण यह है कि हम कभी भी आशा न छोड़े। एक सकारात्मक व्यवहार बनाए रखना और उस आशा को पकड़े रखना जो मसीह में हमारे पास है वो हमें परमेश्वर की चमत्कार करने वाली शक्ति को देखने की स्थिति में रखता है।


आरंभक प्रार्थना

परमेश्वर, मैं आप में मेरी आशा को रखती हूँ। आप में मेरा विश्वास और महान बातें जो आप मेरे जीवन में करने जा रहे है वो परीक्षा के समय में मेरा लंगर है।

Facebook icon Twitter icon Instagram icon Pinterest icon Google+ icon YouTube icon LinkedIn icon Contact icon